शीघ्रपतन का आयुर्वेदिक उपाय

हेल्दी सेक्स रिलेशनशिप के लिए जरूरी है कि महिला और पुरूष दोनों का ही संतुष्ट होना, लेकिन शीघ्र पतन यां अर्ली इजेकुलेशन (Early Ejaculation) की बीमारी के कारण महिला को यौन संतुष्टि नहीं मिलती है। पुरुष को वीर्य के स्खलित होने के बाद आनंद अथवा संतुष्टि की प्राप्ति तो हो जाती है परन्तु स्त्री को शीघ्रपतन के कारण पूर्ण संतुष्टि अथवा कम्पलीट सेक्सुअल आनंद नहीं मिल पता, जिस कारण वह तनाव का शिकार हो जाती है। ऐसा होने से आपके रिश्ते में तनाव तथा दूरियां पैदा होने लग जाती है। महिला में चिडचिडापन आने लगता है। जिसकी वजह से हर समय कलह और क्लेश की स्थिति बनी रहती है। इसी कारण आपको मानसिक तनाव और घरेलू परेशानी के चलते शारीरिक कष्टों को भी झेलना पड़ता है। यह ज़्यादातर उन मर्दों के साथ होता है जिनकी आयु 40 वर्ष से कम है और इसके फलस्वरूप काफी लोगों के सम्बन्ध और विवाह प्रभावित होते हैं।